धोनी आप हर भारतीयों के दिल में हर पल के शायर बन के रह रहे हों, जाते-जाते भी आपका वो नम्बर का खेल ।।

 धोनी... धोनी ... धोनी !  धोनी... धोनी ... धोनी ! 

शायद ही ये गूँज किसी ब्लू जर्सी पहने खिलाड़ी के लिए फिर से सुनाई दे, क्योकिं वो एक था, हाँ मेरे जैसे फैन के लिए बस वहीँ था ।


वैसें तो मैं और मेरे जैसे करोड़ों युवा जन्म से ही क्रिकेट के बारे में जानते आ रहे होते हैं, लेक़िन मेरी दिलचस्पी क्रिकेट देखने से ज्यादे दोस्तों के संग पूरे-पूरे दिन ग्राउंड में खेलने में थी, लेकिन जब से उसके किस्से हर क्रिकेट मैच के बाद अपने दादाजी से सुनने को मिलती थी, की उसने इतने छक्के लगाये, उसने इतनी जोर से मारा की गेंद स्टेडियम से बाहर जा गिरा, फिर जाकर मन के गर्त में छुपे इच्छाओं का बबंडर उसे देखने को व्याकुल हो उठा और फिर जो मैंने उसे देखना शुरू किया वो शिलशिला कब आदत बन गयी थी मुझे आज तक पता नही चला ।

कब उसके शॉट को मै बिना बल्ले के भी हर मैच के बाद प्रैक्टिस करने लगा उसका अंदाजा मुझे बहुत बाद में चला जब लोगों से हवा हवाई होती बात कानों तक आने लगीं की देखो अब ये भी धोनी बन कर ही मानेगा ।

कब आपके लाइव मैच से रेकॉर्डेड मैच देखने लगा ये भी खुद को कानों कान खबर नही हुई, और जब से डिजिटल क्रांति आई तब से यूट्यूब, फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम और ना जाने कहाँ- कहाँ की सर्च हिस्ट्री आपके search word से भरने लगे मुझे पता नही चला ।

कब ना जाने मेरे अपने वास्तविक जीवन में आपके उस पीली और ब्लू जर्सी ने जगह ले ली मुझे पता नही चला क्यो, कैसे और कितने मैंने पीली रंग के शर्ट और पैंट ख़रीदे इसकी गिनती ही छोड़िए या यूं कहिये की मेरे पास अभी जीतने भी कपड़े है अधिकांशतः पीले ही हैं ।

ना जाने कितने चीजें जो अचानक और अचानक ही जुड़ते गए और पता तक नही लगा, और ना जाने कितने आपको चाहने वालों की दिनचर्या में आप जुड़ गए ये खुद उनको भाँप तक नही लगीं ।

आपने हमेशा ही अचंभित किया है कभी नए खिलाड़ी पर विश्वास दिखा कर, कभी आश्चर्यजनक परिवर्तन कर ।

आपने शायद 15 अगस्त के शाम देश के आजादी के जश्न में खुद को भी आजाद कर दिया, और छोड़ गए बहुत से अनसुलझे नम्बर, और हाँ आप तो हमेशा से ही इसके खिलाड़ी रहें हो तो जाते-जाते भी एक नम्बर का खेल सबके लिए छोड़ मन ही मन मुस्कुराते चल दिये ।

आपने जो वीडियो शेयर किया था उसके भी अपने नम्बर का खेल है, उस वीडियो का लम्बाई 4:07 मिनट है जिसको अगर सेकेंड में निकला जाए तो 247 सेकेंड जो आपके क्रिकेट प्रति 24*7 की निष्ठा को बताते गया, या शायद आपने यह बताने की कोशिश की,की आप खुद को 24*7 क्रिकेट से जुदा कर रहे हो ।

फिर आपका वह नम्बर 19:29  ?

मैंने cricbuzz के पिछले साल सेमीफाइनल के स्कोरकार्ड को खोला तो देख के मैं आश्चर्यचकित हो गया कि भारत 19:29 को ही वह मैच हारा था ।

आपने जाते-जाते जीवन चक्र के बारे में भी बहुत कुछ उस वीडियो से कह दिया जो आपके पहले मैच की रनआउट और अंतिम मैच के रनआउट के साथ, व्यक्ति की समस्त जीवन चक्र की आध्यात्मिक बोध कराता हैं ।

आपका वो आर्मी बेस कैंप में गाया गाना जो आज हर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है " मैं पल दो पल का शायर हूँ " मुझे नही लगता आप लाखों भारतीय के दिल मे आदर्श बन कर आप उनके हर पल के शायर है ।

मुझ जैसे फैन के दिल, दिमाग यहाँ तक कि तन और मन पर भी आप एक आदर्श रूपी वस्त्र के रूप में सदैव हैं।


हमे हमेशा इंतजार रहेगा आपके हर उस चौका देने वाले खबर का, हमे इंतजार रहेगा आपकी हमेशा युवाओं के प्रेरणास्रोत रूपी उस सभी कार्य का जिस से हम सभी अपने धोनी को फिर-से-फिर से देखते रहे ।



Post a comment

आपके प्यार और स्नेह के लिए धन्यवाद mithilatak के साथ बने रहे |

Whatsapp Button works on Mobile Device only