मीडडे मील, छात्रवृति, पोशाक राशि व किताबों की राशि समेत अन्य मुद्दों को लेकर ग्रामीणों ने विद्यालय में जड़ा ताला ।

ब्रेकिंग न्यूज पंडौल मधुबनी

मीडडे मील, छात्रवृति, पोशाक राशि व किताबों की राशि समेत अन्य मुद्दों को लेकर ग्रामीणों ने विद्यालय में जड़ा ताला, बी०ई०ओ० योगेन्द्र चौधरी का किया घेराव।


पंडौल पूर्वी पंचायत के इसहपुर स्थित दो दिनों से बंद प्राथमिक विद्यालय के ताला को खुलवाने प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी विद्यालय पहुंचे उन्हें ग्रामीणों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। पहले तो ग्रामीणों ने काफी हंगामा करते हुए नारेबाजी की। फिर विद्यालय के सभी कर्मीयों के संग बी०ई०ओ० योगेन्द्र चौधरी को विद्यालय कैम्पस में तालाबंदी कर दिया। ग्रामीणों का कहना था की पिछले तीन वर्षों से विद्यालय के छात्र-छात्राओं को किसी भी तरह की सरकारी योजनाओं की लाभ नहीं दी जा रही है। विद्यार्थीयों को छात्रवृति व पोशाक राशी नहीं मिली है। यहां तक की पिछले आठ माह से मीड डे मील भी बंद है।

ग्रामीणों का कहना है की विद्यालय में में पठन पाठन भी सुचारू रूप से नहीं हो रही है। यहां तक की प्रभारी एच०एम० विजय कुमार मिश्र को पूर्ण प्रभार भी नहीं दिया गया है। अप्रैल में भी इन्हीं मांगों को लेकर तालाबंदी की गई थी। चार दिन बाद बी०ई०ओ०, सी०आर०सी० व बी०आर०सी० वहां पहुंच लोगों से वार्ता कर कार्रवाई का आश्वासन देते हुए ताला खुलवाया था, लेकिन लगभग 6 माह होने को हैं परन्तु विद्यालय की समस्या यथावत बनी हुई है। फलस्वरूप ग्रामीणों ने आक्रोशित हो बुधवार को विद्यालय में पुन: तालाबंदी कर दी।

ब्रहस्पतिवार को बी०ई०ओ० विद्यालय वार्ता के लिए पहुंचे तो लगभग चार घंटा विद्यालय में बंधक बने रहे। इसकी सुचना मिलते ही पंडौल थाना के पुलिस पदाधिकारी मो० अबुल कलाम एजाज पुलिस बल के संग वहां पहुंचे। स्थानिय जिला पार्षद रमणजी चौधरी, अरविन्द कुमार उर्फ बुच्ची झा, मनिष कुमार झा उद्धव, महावीर झा, हर्षनाथ झा हरखू, महेन्द्र झा समेत अन्य प्रबुद्ध लोगों ने ग्रामीणों व पदाधिकारीयों के संग वार्ता कर समझाने का प्रयास किया। तदुपरांत चार बजे विद्यालय का ताला खोला गया।

विद्यालय के पूर्व प्रधानाध्यापक रामनंदन राम ने वर्तमान प्रभारी एच०एम० विजय कुमार मिश्र को पूर्ण प्रभार देने से साफ इन्कार कर दिया। वहीं प्रभारी एच०एम० ने बिना प्रभार किसी भी प्रकार के कार्य करने से साफ इन्कार कर दिया।

अन्तत: बी०ई०ओ० योगेन्द्र चौधरी ने ग्रामीणों को पन्द्रह दिनों में विद्यालय की समस्याओं को निपटाने का आश्वासन दिया है, साथ ही पूर्व एच०एम० रामनंदन राम के विरूद्ध आवश्यक कानुनी कार्रवाई करने की बात कही है। उन्होंने कहा की विद्यालय में अविलंब मीडडे मील चालू की जाए, साथ ही इस वर्ष की छात्रवृति, पोशाक राशी व किताबों की राशी यथाशिघ्र विद्यार्थीयों को दिए जाने की बात कही।

इन अाश्वसानों के उपरांत ही विद्यालय का ताला खोला गया। ग्रामीणों ने स्पष्टरूप से कह दिया है, की यदि यथाशिघ्र विद्यालय के समस्याओं का निदान नहीं किया गया तो विद्यालय में अनिश्चितकालीन तालाबंदी व प्रदर्शन किए जाएगें।

Post a comment

आपके प्यार और स्नेह के लिए धन्यवाद mithilatak के साथ बने रहे |

Whatsapp Button works on Mobile Device only