बिकास की धज्जियां उड़ा रही हरलाखी विधानसभा, सड़क सहित विभिन्न समस्याओं से जूझ रहे स्थानीय लोग ।

हरलाखी प्रखंड सहित पुरे विधानसभा क्षेत्र की सड़क एनडीए सरकार के विकास की पोल खोल रही है।क्षेत्र के लोगों को बढिया सड़क महज एक सपना बन गया है। एक ओर सूबे के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार सड़क बनाने को विकास कहते है वहीं दुसरी ओर हरलाखी प्रखंड की जर्जर सड़क उनके विकास की पोल खोल रही है।उक्त बातें मिथिला स्टूडेंट यूनियन के संगठन मंत्री राघवेन्द्र रमण ने प्रखंड कार्यालय पर प्रेस वार्ता कर कही।



उन्होंने स्थानीय सांसद और विधायक पर निशाना साधते हुए कहा की हरलाखी के जनता सड़क की समस्या से जूझ रही है।हरलाखी में एक भी अच्छी सड़क नही है। चाहे उमगांव से बेनीपट्टी को जोड़ने वाला हो या जयनगर या सीतामढी को जोड़ने वाला हो परंतु इन समस्याओं को लेकर कभी भी लोकसभा या विधानसभा में आवाज नही उठाया गया। हालांकी चुनावी वर्ष मे इस बीच सड़क निर्माण कार्य शुरु हुई है। परंतु सड़क निर्माण इतनी धीमा गति से किया जा रहा है जिससे काम को पुरा होने मे कई वर्ष लग सकते है। उन्होंने कहा की यही हाल प्रखंड के दर्जनों गावों मे भी है जहां टूटी-फूटी जर्जर व कीचड़ वाली सड़क से लोग जूझ रहे है।कई सड़क ऐसा भी है जहां सांसद व विधायक ने शिलान्यास तो कर दिए मगर सड़क बनी नही या कुछ सड़क उदघाटन के तीन से छह महीने बाद ही सड़क टूटकर जर्जर हो गई है। ऐसे में जनता को तय करना है की किसे चूने अपना नेता कौन करेंगे उनके समस्याओं का समाधान। उन्होंने कहा की आज हरलाखी विधानसभा इतना पिछड़ा हुआ है युवाओं को खेलने  के लिए आजतक  स्टेडियम नही बनवाया गया है और शिक्षा स्वास्थ्य हाल भी बदतर हो गई है।


उन्होंने एक उदाहरण देते हुए कहा की इसी हरलाखी विधानसभा क्षेत्र में करहरा पंचायत है जहां आज भी नदी के पार कर हजारों लोग अपने गाँव जाते है और उनका मुख्य मार्ग भी यही है। नदी पर पुल ना होने से दर्जनों गर्भवती माता को हाॅस्पिटल जाने के क्रम में उस नदी में बह गई। इस समस्याओं को लेकर एमएसयु कै द्वारा कई बार सैकड़ो ग्रामीणों के साथ प्रदर्शन भी किया बावजूद यहाँ के सांसद व विधायक से एक पुल नही बनाया गया।


वहीं उनके साथ एमएसयु के शाहनवाज अहमद ने कहा की हरलाखी विधानसभा जहां पर्यटकों के क्षेत्र में जहां युवाओं का रोजगार मिल सकता है पर ये सरकार यहाँ के पर्यटक स्थलों को आजतक शामिल नही किया।जब सरकार बना था तो कहा गया था की यहाँ के पर्यटक स्थलों को रामायण सर्किट के तहत सभी पर्यटक स्थलों को जोड़ा जाएगा पर पांच वर्ष बीत जाने के बाद भी नही जोड़ा गया। प्रेस वार्ता के दौरान एमएसयू के अजय कुमार यादव, दीपक कुमार, राजन झा, मनीष सिंह उपस्थित थे।

Post a Comment

आपके प्यार और स्नेह के लिए धन्यवाद mithilatak के साथ बने रहे |

favourite category

...
test section describtion

Whatsapp Button works on Mobile Device only