इंटर की परीक्षा में वीक्षक ही निकला भक्षक

आपने कभी सोचा है कि परीक्षा में शिक्षक अगर चोरी करवाये और वो भी ऐसी चोरी जो आज के डिजिटल दुनिया मे डिजिटल ऐप्प के मदद से , तो क्या होगा ...

हाँ आपने सही जाना ऐसा ही हुआ है मधुबनी के मिथिला टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज बसुआरा में ।



चलिये जानते है क्या हैं पूरा मामला 

गौर कीजिये रसायण विज्ञान की परीक्षा चल रही क्लास और क्लास में तकरीबन 50 -60 बच्चे जो की पूरी ध्यानमग्न हो अपनी क्वेश्चन और आंसर शीट पर ध्यान लगाएं हैं कुछ आ रहे प्रश्न को हल करने में लगे है तो कुछ सोच रहे है कि किस प्रश्न से शुरुआत करें ।

अब इस मौहाल में अचानक एक वीक्षक अपने साथी विधालय के शिक्षक के बच्चे को ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चन करने के लिए उसके क्वेश्चन का फोटो क्लिक कर व्हाट्सएप के माध्यम से भेजते हैं ।

इस चल रही गतिविधि को किसी ने ,गुप्त सूचना के आधार पर सदर एसडीएम सुनील कुमार को पहुँचा दिया और मौके पर ही पहुच श्रीमान सर ने उस वीक्षक के मोबाइल की जाँच की तो यह खबर पक्की निकली तब क्या वो श्रीमान ने उस वीक्षक जिनका नाम इरफान है उनसे पूछताछ की तो पता चला कि परीक्षा दे रहे सौरभ कुमार नामक परीक्षार्थी को नकल कराने के उद्देश्य से आब्जेक्टिव प्रश्नों का मोबाईल से फोटो खींचकर एकम्मा मध्य विद्यालय में कार्यरत शिक्षक ईश्वर नाथ महतो के मोबाइल पर भेजा गया था। फिर शिक्षक ईश्वर नाथ महतो द्वारा उक्त प्रश्नों को हल कर वीक्षक मो.इरफान के मोबाइल पर भेजा गया। इस मामले में परीक्षार्थी सौरभ कुमार को परीक्षा से निष्कासित कर दिया गया वहीं उसे दो हजार दंड भी देना पड़ा जबकि वीक्षक को पुलिस हिरासत में जेल भेज दिया गया। 

Post a comment

आपके प्यार और स्नेह के लिए धन्यवाद mithilatak के साथ बने रहे |

Whatsapp Button works on Mobile Device only